Darr Ke Aage Jeet Hai Lyrics – Sukhwinder Singh (2020)

The song of Darr Ke Aage Jeet Hai Lyrics released in the year 2020. This song is sung by Sukhwinder Singh, written by Swanand Kirkire, and composed by Ram Sampath.

Darr Ke Aage Jeet Hai Lyrics – Song Info

Song: Darr Ke Aage Jeet Hai

Singers: Sukhwinder Singh

Lyricist: Swanand Kirkire

Music: Ram Sampath

Music Label: Saregama Music

Original Credits:

Original Singers: Mohammed Rafi and Balbir

Original Music Director: O.P. Nayyar

Original Lyricist: Sahir Ludhianvi

Darr Ke Aage Jeet Hai Lyrics in English

Ye desh hai veer jawaanon ka albelon ka mastaanon ka

Is desh ka yaaron kya kahna

Ye desh hai duniya ka gehna

Ye yoddhaon ki bhoomi hai ham befikar chalein

Saugandh liye is maati ki hoke nidarr chalein

Ho nas-nas mein gholta jazba hai dil mein ye geet hai

Ke darr ke aage

Darr ke aage

Darr ke aage jeet hai

Ye desh hai veer jawaanon ka albleon ka mastaanon ka

Yahan sadiyon se ye reet hai ji

Har darr ke aage jeet hai ji

Darr ke aage

Darr ke aage jeet hai

Mera dil ye jaan ye wajood mera junoon ki aag jalein

Ham rakshak hain iss mitti ke bas jeet ki raah chalein

Hai jeet ka parcham haathon mein aur dil mein geet hai

Ke darr ke aage

Darr ke aage

Darr ke aage jeet hai

Ye desh hai veer jawaanon ka albelon ka mastaanon ka

Yahan sadiyon se ye reet hai ji

Har darr ke aage jeet hai ji

Darr ke aage

Darr ke aage jeet hai

Darr ke aage

Darr ke aage jeet hai

Darr ke aage jeet hai

You may also like: Bharat Ki Beti Lyrics

Darr Ke Aage Jeet Hai Lyrics in Hindi

ये देश है वीर जवानों का अलबेलों का मस्तानों का

इस देश का यारों क्या केहना

ये देश है दूनिया का गेहना

ये योद्धाओं की भूमी है हम बेफिकर चलें

सौगंध लीये इस माटी की होके निडर चलें

हो नस-नस में घोलता जज़्बा है दिल में ये गीत है

के डर के आगे

डर के आगे

डर के आगे जीत है

ये देश है वीर जवानों का अलबेलों का मस्तानों का

यहाँ सदियों से ये रीत है जी

हर डर के आगे जीत है जी

डर के आगे

डर के आगे जीत है

मेरा दिल ये जान ये वजूद मेरा जुनूं की आग जलें

हम रक्शक हैं इस मिट्टी के बस जीत की राह चलें

है जीत के परचम हाथों में और दिल में गीत है

के डर के आगे

डर के आगे

डर के आगे जीत है

ये देश है वीर जवानों का अलबेलों का मस्तानों का

यहाँ सदियों से ये रीत है जी

हर डर के आगे जीत है जी

डर के आगे

डर के आगे जीत है

डर के आगे

डर के आगे जीत है

डर के आगे जीत है

You may also like: Bharat Humko Jaan Se Pyara Hai Lyrics

Video Song of Darr Ke Aage Jeet Hai Lyrics

You may also like: Rani Hindustani Lyrics